Rajpal Yadav Biography In Hindi राजपाल यादव जीवनी

Rajpal Yadav Biography In Hindi : राजपाल यादव जीवनी (बायोग्राफी)

Rajpal Yadav Biography In Hindi : दोस्तों नमस्कार, आज Achhisoch.com पर हम राजपाल यादव जी का पूरा बायोग्राफी एंड विकिपीडिया जानेंगे (Biography & Wikipedia) जिनके जीवनी से हमें बहुत कुछ प्रेरणादायक श्रोत सिखने मिलते हैं.

Rajpal Yadav Biography In Hindi : राजपाल यादव

उत्तर प्रदेश में शाहजहांपुर (Shahjahanpur) से 40 किलोमीटर दूर कुंद्रा गाँव में 16 मार्च 1971 जन्मे और फिर आठवी कक्षा तक की Education प्राप्त की Shahjahanpur से ही, और उसके पश्चात शाहजहांपुर से स्नातिक की डिग्री (Degree) प्राप्त की और लखनऊ की और बढ़ चले. लखनऊ से BNA तक की पढाई और फिर दिल्ली से National School Of Drama (NSD) और यहाँ से मुंबई तक की यात्रा यानी बचपन से जवानी तक का सफ़र ये था पर किया बचपन की बीतीं बातें कोई भुला पाता है?

Early Life (Career) : प्रारंभिक जीवन

इंसान से इंसान का अपना परिचय धीरे-धीरे ही होता है, अपनी कमियों और अपने गुण मालुम होने लगते हैं, और फिर हम चयन करते हैं की हमें किस और पाँव बढ़ाना है. ये परिचय स्कूल (School) से कॉलेज तक की सफ़र में होजाता है. Rajpal जी का परिचय अपने भीतर निहत्य कलाकार या उस अभिनेता से कब हुआ आईये चलिए कुछ रोचक बातें जानते हैं जो Rajpal जी ने एक बार खुद एक इंटरव्यू  (Interview) में बताया था.

Rajpal Yadav जी बचपन में कई बार स्कूलों में भी नाटक में हिस्सा लेते रहेते थे, जैसे जैसे बड़े होते गए अखबारों में पढ़ते रहेते थे, सच मायेने में इनको कभी लगा नहीं था की ये आगे चलकर एक्टिंग करेंगे कियूं की इनकी जो पढाई (Study) थी वो बायोलॉजी (Biology) फिल्ड से थी और इनके जो मास्टर (Professor) थे वो इनको डॉक्टर (Doctor) बनाना चाहेते थे, लेकिन राजपाल (Rajpal) जी का रुझान अन्दर से था की वो ऐसी Field में जाना चाहेते थे की जिसमे उन्हें नौकरी (Service) न करनी पड़े.

जब Rajpal Yadav इंटरमीडिएट (Intermediate) में थे तो वो अपने मुहल्लों में जब कभी Election होता था तो उसमें भी हिस्सा लेते थे वो बूथ पर बैठकर Origiant होना और वो मुहल्लों में जिस Candidate को जिताना चाहेते हैं उसके लिए प्रचार करना रेली निकालना Campaign में हिस्सा लेना ये सब कर चुके हैं बचपन में काफी शरारती भी थे Rajpal Yadav जी.

Rajpal Yadav खुद बताते हैं की में एक ऐसी दिशा की तलाश में था की कोनसी Filed हैं जिसमे मुझे रोटी, कपडा, और मकान, जो अभी तक माँ-बाप ने जिम्मेदारियां मुझे लेकर उठाई हैं. में अपने पेरों पर कब खड़ा हो पाऊंगा, किस Field में जाऊँगा जो में खुद अपनी जिम्मेदारी से अपना जीवन जी पाऊंगा.

धीरे-धीरे जैसे समय आगे बढ़ रहा था उसी प्रकार Rajpal Yadav जी की सोच भी आगे बढ़ रही थी, इन्होने एक ऑडियंस क्लोजिंग फैक्ट्री है शाहजहांपुर में है वहां इन्होने एडमिशन (Admission) लिया और वहां से इन्होने डाई साल ट्रेनिंग (Training) प्राप्त की. फिर उसके बाद Croation Art Theatre है शाहजहांपुर में जो बहुत ही Stablish संस्था है, इस संस्था में इन्होने आने के बाद जरीफ मालिक आनदं जी जो इस संस्था के संस्थापक थे उनके सहान हित में कला की Training प्राप्त की, और उसमे छोटे-छोटे रोल निभाने लगे इस भूमिका को निभाने में उनको काफी लुत्फ़ मिलने लगा, दूसरा काम करने के मुकाबले इस काम में इनको जियादा Excitement होता था, अन्दर से एक जियादा खुसी होती थी इस काम में. सोचने लगे की यही वो काम तो नहीं है जिसे मुझे करना है जिसमे में आगे बढ़ सकता हूँ, लेकिन अन्दर ही अन्दर डर भी था की इस Field में इतना बड़ा कम्पटीशन (Competition) है कैसे किया होगा, होना किया था जिनके मजबूत इरादे होते हैं भगवान् भी उनके साथ होता है, राजपाल जी की लगन और महेनत ने उनके होसले को कम होने नहीं दिया, एक दफा भिवा मिश्रा जी के Croation के अन्दर एक रोल प्ले किया अंधेर नगरी चोपट राजा में और जब वो Play हुआ और Show होने के बाद में शायद वह Decision था जो इन्होने सोच लिया था की अब Life (जीवन) में जो भी करूँगा इस Field में करूँगा,

आटे (भोजन) का इन्तिजाम हो तो सोने पे सुहागा होने वाली बात है लेकिन Art (कला) को अब नहीं छोडूंगा लेकिन इश्वर की कृपया से आटे और Art में दोनों संतूलन बरक़रार रहा.

गुरुओं को सम्मान देने वाले शिष्य गुरु तथा अगर्ज दोनों ही स्नेह व अशिष्य लेते रहेते हैं अपने गुरुओं की कथनी को जीवन का मार्ग समझने वाले राजपाल यादव जी ने पीछे मूड कर कभी नहीं देखा लखनऊ से निकल कर इन्होने Delhi में जो काफी मशहूर संस्था हैं (NSD) National School’s Of Drama में दाखिला लिया और यहाँ पर ढाई साल ट्रेनिंग ली, अपने पुरे Focus और आत्मविश्वास से आगे बढ़ने लगे NSD में इन्होने अपनी कला को और निखारा और 1997 में अपना Career बनाने के लिए वो मुंबई आगये, मुंबई आने के बाद प्रकाशझा के हित में इन्हें एक सीरियल में काम करने का मौका मिला जो (DD) Doordarshan Television पे आता था इस सीरियल का नाम था मुंगेरी के भाई नौरंगीलाल (Mungeri ke Bhai Naurangilal), जो इसी चैनल पे आने वाले एक सीरियल मुंगेरीलाल के हसीन सपने (Mungerilal ke Haseen Sapne) का ही सिक्वल था. अब राजपाल पीछे मुड़ने वालों मेसे कहा थे वे आगे बढ़ते गए और 1999 में दिल किया करे से हिंदी फिल्मो में अपना कदम रखा अपनी पहेली फिल्म में इन्होने एक School Watchman की भूमिका निभाई, आगे चलकर हास्य कलाकारी में अपनी धाग जमाई, फिल्म हलचल, गरम मसाला, चुप-चुपके, हेरा-फेरी जैसी अनेक फिल्मों में दर्शकों को काफी लौट पोट भी किया, सिर्फ हास्य कलाकारी में ही नहीं इन्होने मैन लीड (Actor) रोल में भी कही भूमिकाएं निभायीं जो काफी पसंद की गयी फिल्म कुश्ती, मेरी पत्नी और वो, चांदनी बार, हेल्लो हम लल्लन बोल रहे हैं, में माधुरी दिक्सित बनना चाहेती हूँ, जसी कई फिल्मो में और सफल भी हुए अपने इस Man Lead (Actor) की भूमिका में.

Rajpal Yadav जी सनसुई स्क्रीन (Sansui Screen Best Actor Award’s) बेस्ट एक्टर अवार्ड्स से भी नवाजे जा चुके हैं Negative रोल निभाने के लिए हिंदी फिल्म जंगल में, यस भारती आवर्ड और जनपद रत्न अवार्ड से भी सम्मानित हो चुके हैं, 2006 में आई फिल्म Waqt:The Race Against Time में Film Fare की श्रृंखला में भी Nominate हो चुके हैं Best Actor Comic Role play करने के लिए.

Personal Life : व्यक्तिगत जीवन

किसी का हम सफ़र बनना और किसी को हम सफ़र बनाना ये नियती (भगवान्) के हाथ में होता है तभी तो शायद ये कहा जाता है की जोड़ियाँ ऊपर वाला तय करता है और विवाह जमीन पर तय होती है, और यही बात राजपाल यादव जी की Life में फिट बैठती है, राजपाल यादव बताते हैं की वो फिल्म The Hero: Love Story Of Spy की शूटिंग के लिए कनाडा (Canada) गए हुए थे, वहां एक ऐसी लड़की से मुलाकात हुयी जिसने न कभी शाहजहांपुर (Shahjahanpur) सुना था और न ही राजपाल यादव जी ने कभी केलगिरी (Calgary) सुना था, वहां इनदोनो जोड़ी राजपाल यादव और राधा यादव (Radha Yadav) की मुलाकात हुयी और इन दोनों जोड़ी ने 10 जून 2003 में शादी करली.

राजपाल यादव अपनी सफलता का श्रेय किसे देते हैं आईये जानते हैं:

1999 में दिल किया करे से सफ़र करने वाले राजपाल यादव जी ने मस्त, शूल, जंगल, प्यार तूने किया किया, चांदनी, अनवर, से लेकर Me Madhuri Dixit बनना चाहेती हूँ जैसी अनेक फिल्मो में अपनी अभिनय से नवाजा है, सिर्फ नवाजा ही नहीं बल्कि उसमे धाग भी जमाई है, इस पूरी सफलता का श्रेय वो अपनी माता-पिता, Delhi, शाहजहांपुर, मुंबई, अपने गुरु, और अपने ऑडियंस (Audience) को देते हैं.

“जिस तरह फलों से लदा हुआ व्रक्ष तनता नहीं है, झुकता है उसी तरह सफलता से प्रति उनके विचार बेहद स्पष्ट हैं, शायद यही वजह है की अहेंकार की बयार भी राजपाल यादव जी को छुकर नहीं गुजरी”

सफलता के बारे में राजपाल यादव जी का किया ख्याल है आईये जानते हैं:

अभिनय की गलियारों में अपनी पहेचान बनाते हुए गुजरना सरल नहीं है पर जिन्होंने अपनी गुरुओं का आशीष पाया हो भला उनके पाँव क्यों रुके. राजपाल यादव जी कहेते हैं महेनत ही जिंदगी का आभार है, सफलता के बारे में राजपाल यादव कहेते हैं की सफलता एक चिंगम की तरह है सफलता (चिंगम) को अगर मूंह में चबाते रहिये उसका हल्का हल्का रस लेते रहिये तो वो आपको बहुत मजे देगी, अगर वो चिंगम को आप निगल लेते हैं तो आपकी शायद आतें भी फाढ़ देगी और आपको Operation भी करना पड़ सकता है, तो चिंगम और सफलता में कोई विशेष अंतर नहीं है सफलता का मजा हमें उतना ही लेना है. जितना हम जैसी चिंगम का मजा लेते हैं और जब चिंगम आपको बौर करने लगे तो उसको थूंक दें और आप नयी चिंगम की तलाश में आपका जो भूक है वो बढ़ने लगेगी. सफलता मिलने पर सफलता का एक सिमित वक़्त तक आनदं लें और फिर वापस एक नयी उर्जा के साथ फिर से लग जाएँ. कियूं की वही इंसान जीवन में सफल होता है जो सफलता को पचा सके.

10 Facts About Rajpal Yadav : कुछ रोचक जानकारियां राजपाल यादव जी के बारे में

1. राजपाल यादव (Rajpal Yadav) बॉलीवुड (Bollywood) हिंदी फिल्मों में काफी मशहूर हैं, जो एक फेमस हास्य अभिनेता के तौर पर जाने जाते हैं. काफी मशहूर और फेमस हैं अपने कॉमिक रोल के कारण हिंदी फिल्मों में.

2. उत्तर प्रदेश में शाहजहांपुर से 40 किलोमीटर दूर कुंद्रा गाँव में 16 मार्च 1971 में जन्मे हैं, इन्होने अपनी पढाई लिखाई शाहजहांपुर और लखनऊ स्थित जगह में पूरी की. राजपाल ने अपनी पढाई बायोलॉजी (Biology) filed से पूरी की.

3. Rajpal Yadav ने 1992-1994 में Bhartendu Natya Academy (भार तेंदू नाट्य अकैडमी) theatre में कला की ट्रेनिंग (Training) ली जो लखनऊ के पास स्थित है, यहाँ पर इन्होने 2 साल ट्रेनिंग ली.

4. भारतेंदू नाट्य अकैडमी से ट्रेनिंग लेने के बाद वो Delhi में (NSD) National School’s Of Drama में 1994-1997 की ट्रेनिंग ली और अपनी कला को निखारा. और बॉलीवुड (Bollywood) हिंदी फिल्मों में अपना Career बनाने के लिए 1997 में वो मुंबई आगये.

5. राजपाल यादव जी की शादी 10 जून 2003 में राधा यादव से हुयी, इन दोनों जोड़ी की मुलाकात पहेली बार कनाडा में हुयी थी फिल्म The Hero:Love Story Of Spy के दौरान जब राज पाल कनाडा गए हुए थे.

6. राजपाल यादव ने अपनी शुरुआत एक सीरियल से की थी जो दूरदर्शन (DD) पे आता था, इस सीरियल का नाम था मुंगेरी के भाई नौरंगीलाल जो मुंगेरीलाल के हसीन सपने का ही सिक्वल था.

7. हिंदी फिल्मों में इन्होने दिल किया करे से अपनी शुरुआत की जिसमे इन्होने एक School’s के Watchman की भूमिका निभाई. और धीरे-धीरे हिंदी फिल्मों में अपनी धाग जमाते चले आये, काफी सफल भूमिका निभाई और कामयाब भी हुए, फिल्म जंगल में इनको Best Performer Actor Negative Role Play करने के लिए अर्वार्ड्स (Awards) भी सम्मानित किया जा चूका है.

8. अपनी इस मुख्य हास्य कलाकारी से सबका दिल जीता और सबको काफी लौट-पॉट भी किया फिल्म: Hera Pheri, Hulchal, Garam Masala, Chup-Chupke जैसी अनेक फिल्मो में. सिर्फ हास्य कलाकारी में ही नहीं बल्कि Man Lead अभिनेता (Actor) के तौर पर भी अपना जलवा दिखाया है, फिल्म :- कुश्ती, मेरी पत्नी और वो, हेल्लो हम लल्लन बोल रहें हैं, Me Madhuri Dixit Banna chaheti hun जैसी कई फिल्मो में और दर्शकों को पसंद भी आये मैन लीड रोल में.

9. यश भारती अवार्ड और जनपद रत्न अवार्ड से भी सम्मानित हो चुके हैं, 2006 में Film Fare की श्रंखला में Best Actor Comic Role Play करने के लिए भी Film- Waqt:The Race Against Time में भी Nominate किये जा चुके हैं. सनसुई स्क्रीन (Sansui Screen) Best Actor Awards से भी नवाजे जा चुके हैं फिल्म जंगल में जिसमे इन्होने एक Negative रोल की भूमिका निभाई थी.

10. Rajpal Yadav को डांसिंग में भी काफी रूचि है, वो जो भी काम करते हैं उसमे पुरे मन से अपनी जिम्मेदारी निभाते हैं, यही कारण है आज एक सफल (Success) मुकाम पर हैं, राजपाल जी एक बहुत सिंपल सवभाव के हैं, अपने से छोटे बड़े सबकी आदर करते हैं यही कारण है लोग इन्हें भी उतने प्यार से ही सम्मान और इज्जत देते हैं. अभिनय को माता का दर्जा देने वाले राजपाल यादव जी की एक खवाहिश है की वो अपनी माता (acting) को कभी छोड़ना नहीं चाहेते हैं.

Read: Budhia Singh Biography In Hindi

“राजपाल यादव जी हमेशा अपने कर्म निष्ठा पथ पर चलते रहें वे देश और समाज को अच्छी से अच्छी फ़िल्में देते रहें जो परिवार के साथ देखी, समझी और पसंद की जाएँ हर पग पर कामयाबी उन्हें मिलें पलके बिछाएं यहीं हैं हम सबकी दुआएं”

Please follow and like us:

achhisoch

यदि आपके पास हिंदी में कोई प्रेरणादायक कहानी , Article, Computer Tips, सामान्य ज्ञान, या कोई महत्वपूर्ण जानकारी है जो आप हमारे साथ Share करना चाहेते हैं तो आप हमारी ID:achhisoch.com@gmail.com पर भेज सकते हैं, पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ Share करेंगे. धन्यवाद!

39 thoughts on “Rajpal Yadav Biography In Hindi राजपाल यादव जीवनी

  • March 21, 2016 at 7:37 pm
    Permalink

    Very Motivational Kahani rajpal sir ki…

    Reply
    • May 28, 2016 at 11:15 am
      Permalink

      bahut bahut sukhriya Naresh panwar sir ji..Welcome to achhi soch family Team…Thankyou so much

      Reply
  • May 29, 2016 at 11:54 am
    Permalink

    Uttar Prdesh Ki Dharti Se ka Ek Nayab Ratan Ho AAp

    Reply
    • May 30, 2016 at 4:53 am
      Permalink

      bilkul sahi kaha rahul bhai aapne rajpal yadav sir sach me ek nayab ratan hi hain..anmol nageena hain rajpal sir…

      Reply
  • July 1, 2016 at 3:16 pm
    Permalink

    Wish u all the best rajpal sir. App in hi home hasate rhiye.

    Reply
  • July 1, 2016 at 3:18 pm
    Permalink

    U are my role model,sir

    Reply
    • July 1, 2016 at 3:33 pm
      Permalink

      sahi kaha aapne Utkarsh dixit ji rajpal yadav sir ek Great man hain, aur bahut saare logon ke liye ek inspiration bhi hain..God Bless U sir..

      Reply
  • July 10, 2016 at 2:17 pm
    Permalink

    rajpal ji jis film me aap hote hai ! us film ko har aadmi dekhana chahta hai

    Reply
    • July 11, 2016 at 9:45 am
      Permalink

      bilkul sahi kaha aapne umashankar srivastava sir ji, rajpal yadav ji jis bhi movie me hote hain us picture me dhamaal hojata hai

      Reply
  • July 19, 2016 at 9:49 pm
    Permalink

    Rajpal yadav ek mahan kalakar hai unhone hamare jile aur tahsil ka naam m raushan kiya hai

    Reply
    • July 20, 2016 at 9:40 am
      Permalink

      sahi kaha aapne Rohit Yadav ji rajpal yadav sir ne aapke tahsil ke sath sath pure desh ke name roshan kiya hai

      Reply
  • August 12, 2016 at 10:16 pm
    Permalink

    Bakai sach hi kaha ha logo ne rajpal yadav jaisa Bollywood me nahi

    Reply
    • August 13, 2016 at 9:47 am
      Permalink

      rajpal yadav ek great actor hain aur sachhe insaan bhi

      Reply
  • August 14, 2016 at 8:10 pm
    Permalink

    rajpal sir aap jaisha to duniya me koi actors nahi h sir aap ka mai bahut bara fain hu

    Reply
  • August 21, 2016 at 11:17 pm
    Permalink

    वैसे तो मैं बिहार से हूँ, और इसलिए अपनी दही वाली बात भी नही होगी। सच राजपाल यादव जैसा दुनिया में एक्टर नही और मेरे से बड़ा कोई फैन भी नही हो सकता।

    Reply
    • September 3, 2016 at 11:14 pm
      Permalink

      mai manta tu rajpal uncle ka sabse bada fan hai but yaad rakhna bachhe wo din bhi aayega jab mai bhi star banoogan phir tu mujhe comment karega mera matlab ye nahin ki mai rajpal uncle jaisa banooga unse mai down hoo down hi rahuga ise challenge nahin reply samjho i miss you rajpal dada rajpal bhai,rajpal uncle tum to sabse bade don ho aur yugo yugo tak don rahoge rajpal ji maine tumse bahut kuchh sikha hai kya kya sikha hai ye raaj film industri me aaunga tab batayega aapun, aapun chalta hai kya,i miss you rajpal chacha

      Reply
  • August 29, 2016 at 11:35 pm
    Permalink

    Raj pal yadav apne mhent se apni kamyabi hasil ki h.muje unper garv h. I like raj pal yadav. .

    Reply
  • August 31, 2016 at 6:22 pm
    Permalink

    I’m big fan of rajpal Yadav I love you

    Reply
  • October 26, 2016 at 10:53 pm
    Permalink

    हाँ मैं तो फिल्म भी देखने से पहले जान लेता हूं कि यादव जी उसमें हैं या नहीं।
    आप अच्छे रहें यही दुआ है मेरी।

    Reply
  • November 11, 2016 at 8:19 am
    Permalink

    ye kam ka banda hai

    Reply
  • January 2, 2017 at 10:00 am
    Permalink

    aapke jewan ke kamna karti hai sir

    Reply
  • January 2, 2017 at 3:12 pm
    Permalink

    SIR GOOD AFTERNOON SIR MERA NAAM LALIT BABU H OR MEIN PILIBHIT MEIN REHTA HU OR RAJPAL SIR KAA BAHUT BADA FAN HU OR SIR MEIN ACTING KARNA CHAHATA HU PLZZZZZ REQUEST ME KNOW MY CONTENT NO IS 9634202465 H..SIR

    Reply
    • January 5, 2017 at 11:21 am
      Permalink

      Lalit Babu ji mahenat karte rahiye ek din jarur aap bhi actor banenge dua hai hum sabki

      Reply
  • January 25, 2017 at 1:23 am
    Permalink

    bahut nice story hai rajpal sir ki .sir mujhe bhi acting me apna carrier banana hai sir to muze kya karna hoga sir

    Reply
  • February 4, 2017 at 12:46 pm
    Permalink

    I like best actor

    Reply
  • March 17, 2017 at 1:08 am
    Permalink

    Rajpal ji kya zinda hay ya mar Gaye…. Plzz sir bataiye … Kyu ki much din pahele mane fb par dakha ki sir mar Gaye.. A baat kya sach hay sir plzz bataiye…. Him fans loge weight kar rehe hay…..

    Reply
  • March 17, 2017 at 1:08 am
    Permalink

    Rajpal ji kya zinda hay ya mar Gaye…. Plzz sir bataiye … Kyu ki much din pahele mane fb par dakha ki sir mar Gaye.. A baat kya sach hay sir plzz bataiye…. Him fans loge weight kar rehe hay…..plzzzz sir bataiye…

    Reply
  • March 18, 2017 at 9:40 am
    Permalink

    Good morning rajpal sir
    I Am big fan of you

    Reply
  • September 3, 2017 at 3:14 am
    Permalink

    I miss you sir

    Reply
  • September 29, 2017 at 12:05 am
    Permalink

    what a good actor. i have not such a good actor at the age of 72. may god bless the whole famili with success and respect/ l.r.baweja chartered accountant

    Reply
  • March 16, 2018 at 12:38 pm
    Permalink

    Maine kahi se suna h ki jis saal rajpal ji ne NSD paas ki thi, uss saal ye pass hone wale akele student the. Iss baat me kitni sacchai h?

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *