Story in Hindi – A Story About Our Attitudes

Story in Hindi – A Story About Our Attitudes:

मित्रों नमस्कार, कहा जाता है की इंसान अगर सीखना चाहे तो किसी भी छोटी छोटी बातों से भी सिख सकता है, और ये 100% सच है, कभी कभार जो बात हम किसी books या दुसरे के जरिये नहीं सिख पाते हैं वो एक छोटी से कहानी से सिख जाते हैं, आईये इस story in hindi post में जानते हैं की हमें किया सिख मिलती है, उम्मीद करता हूँ आप सभी को काफी पसंद आएगा.

एक आदमी अपने घर में चलते चलते फॅमिली रूम (family room) में चला गया जहाँ पर उसके पुरे परिवार के सदस्य एक साथ बेठे हुए थे.

“यहाँ पर तो बदबू (stinks) आरही है,” उस व्यक्ति ने रसोई घर (Kitchen) में जाने से पहेले यह बात कहे कर वो रसोई घर में दाखिल होगया.

“ओह Shit ! यहाँ पर भी बदबू (stinks) आरही है” उसने फिर से ये बात कहे कर वो व्यक्ति अबसे भोजन कछ (Dining Room) में चला गया.

“इस कमरे में तो अधिक मात्रा में बदबू आरही है,” उस व्यक्ति ने कहा, और मूंह ठेढ़ा कर लिया, और उसके चहेरे से साफ़ गुस्सा भी झलक रहा था.

तभी उसका बेठा हुआ पूरा परिवार उसको देखने लगा और एक साथ आवाज में उन्होंने कहा, “आपके मूंछ (moustache) पर पनीर (cheese) का झूठन लगा हुआ है”.

उस व्यक्ति ने वो पनीर का झूठा जाकर धुला जो मूंछ पर लगा हुआ था. और निश्चित तौर पर धुलते ही वो वो बदबू दूर होगई.

Moral Of This Hindi Story:

मित्रों हमारे आस पास के लोगों के बारे में इस दुनिया के बारे में शिकायत करना बहुत आसान है, वो शिकायत आपकी नौकरी (your job), आपके मालिक (your boss), अर्थव्यवस्था (economy), सरकार (government), आपके बच्चे (your kids), आपकी पत्नी (your wife), यातायात (traffic), आपका पसंदीदा खेल टीम (your sporting team), आपका कोई दोस्त (your friend), कोई भी होसकता है ये लिस्ट (List) सूचि और भी लम्बी होसकती है.

लेकिन जहाँ तक मेने देखा और पाया है की जो लोग अधिक शिकायत कर रहें हैं या करते हैं, दर असल वो अपने नजरिये से दागी हैं, उनकी दृष्टिकोण, उनका देखने का नजरिया अलग है वो अपने अन्दर छुपी कमियों को नहीं देखते हैं और बस शिकायत करने लग जाते हैं.

इसीलिए अगर आप ये सोचते हैं या आपको को लगता है की इस संसार से इस दुनियां के लोगों से बदबू आरही है तो, तो आप सिर्फ शिकायत करके सोचेंगे की ठीक होजायेगा तो ये सरासर गलत है ऐसी उम्मीद न रखें, सबसे पहेले आप सवें खुद को बदले अपने नजरिये और आपके दृष्टिकोण को बदलें फिर देखें ये संसार कैसा आपको हरा भरा और खुश धिखायी देगा.

इसीलिए एक कहावत कही जाती है की “नजरिया बदलिए नज़ारे बदल जायेंगे” और ये कहावत एक प्रकार से सिद्ध भी साबित होती है. मित्रों इस संसार में अनेक प्रकार के अवसर छुपे हुये हैं, ये अवसर जीवन का अनुभव करने के लिए है, आप हमेशा सकारात्मक बातें सोचें और छोटी छोटी बातों में खुश रहेने की कोशिश करें.

Note: ये प्रेरणादायक हिंदी कहानी मेरी मूल रचना नहीं है, ये Post story in hindi  मेने Darren Poke सर की अंग्रेजी ब्लॉग से हिंदी में translate की है, उनके अनुमति के अनुसार.

इन सभी प्रेरणादायक हिंदी कहानियों को भी जरुर पढ़ें.

Please follow and like us:

achhisoch

यदि आपके पास हिंदी में कोई प्रेरणादायक कहानी , Article, Computer Tips, सामान्य ज्ञान, या कोई महत्वपूर्ण जानकारी है जो आप हमारे साथ Share करना चाहेते हैं तो आप हमारी ID:achhisoch.com@gmail.com पर भेज सकते हैं, पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ Share करेंगे. धन्यवाद!

9 thoughts on “Story in Hindi – A Story About Our Attitudes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *