Extrovert Personality है सफलता की सीढ़ी

Extrovert Personality है सफलता की सीढ़ी

Hello friends, मैं khayalrakhe.com से Babita Singh हूँ और आज मैं आपसे achhisoch.com के माध्यम से share करना चाहती हूँ कि कैसे कोई अच्छी योग्यता, ज्ञान और अनुभव होने के बाद भी अपने विचारों को ठीक से व्यक्त न कर पाने के कारण असफल हो जाता है.

Psychological गुणों के आधार पर व्यक्ति की personality को दो भागों में बाटा गया है पहला introvert (अंतर्मुखी) और दूसरा extrovert (बहिर्मुखी), Introvert प्रवृति के व्यक्ति बहुत लोगों से मिलना – जुलना पसंद नहीं करते और इनकी दोस्ती कुछ ही लोगों तक सीमित होती है, ऐसे लोगों को अकेले रहना अच्छा लगता है लेकिन आज के दौर में जहाँ इंसानों के बीच एक – दूसरे से आगे निकलने की होड़ लगी हुई है ऐसे में अपनी एक पहचान बनाना introvert personality के साथ मुश्किल है Government sector हो या private sector में job ढूढनी हो तो आप को  extrovert यानि लोगों से मिलना – जुलना, खुशमिजाज, यथार्थवादी, और थोडा चुलबुला होना ही पड़ेगा.

आपने महसूस किया होगा कि आप दुनिया को नहीं बदल सकते है और न ही अपने भाई – बहनों, पड़ोसियों, सगे – सम्बन्धियों, सहयोगियों, दोस्तों आदि को बदल सकते है लेकिन आप अपने – आप को तो बदल ही सकते है और यह इसलिए जरुरी है ताकि आप अपनी योग्यता का ठीक से प्रचार – प्रसार कर सके और वह सब हासिल कर सके जिसे आप हमेशा से पाना चाहते है, अग्रेजी में एक कहावत है –‘opportunity knocks your door only once’ अर्थात जीवन में अवसर एक ही बार दरवाजा खटखटाता है, यह आप पर निर्भर करता है कि हाथ आए हुए अवसर को सफलता में कैसे तब्दील करें, आज मैं आप से कुछ ऐसे ही बिंदुओं पर बाते करुँगी जो आपकी personality को प्रभावी बनाने में आपकी मदद करेगी.

मेलजोल बढाएं– समय के साथ – साथ अभिव्यक्ति के तरीके भी बदलते रहते है, इसलिए बेहद जरुरी है कि आप अपनी संवाद क्षमताएं बेहतर करें और यह तभी संभव है जब आप लोगों से मेलजोल और संपर्क बढाएं | यदि आप संकोची स्वभाव के है तो यह आप के लिए और भी जरुरी हो जाता है कि आप अपनी इस कमी को दूर करने का प्रयास करें, कई बार अच्छी योग्यता, ज्ञान और अनुभव सब कुछ होने के बाद भी जीवन की दौड़ में महज इसलिए पिछड़ जाते है क्योंकि हम अपनी बात को ठीक से नहीं व्यक्त कर पाते, आजकल इसके लिए अलग से communication skills के coursers भी चलाए जा रहे है, आप चाहे तो आप भी इनका लाभ उठा सकते है.

Improve Body Language – आप खूब काबिल है लेकिन आप में आत्मविश्वास की कमी है और आप किसी के सामने बोलने में सकुचाते है तो तय मानिए आप अपने कैरियर में आगे नहीं बढ़ पाएंगे, इसलिए किसी से भी बात करते हुए हमेशा ध्यान रखें कि आप आंख से आंख मिलाकर बाते करें, सीधे खड़े रहे और अपनी बात को आत्मविश्वास के साथ कहें, ऐसा करने में थोड़ा समय लग सकता है लेकिन कोशिश करना मत छोड़े.

Public speaking– Public speaking एक कला है, कुछ लोगों को इसमे महारत हासिल होती है, तो कुछ लोग इसमे ज्यादा सहज नहीं होते लेकिन वक्त के साथ कदम से कदम मिलाकर चलने के लिए आप को ये गुण तो सीखना ही होगा और यह आप के extrovert बनने भी मदद करेगा, इसलिए समूह में लोगों से बात करें, पहली बातचीत का विषय चुनना कठिन नहीं है, मौसम, सेहत या आज की तजा खबर जैसे विषयों का आखिर इससे अच्छा इस्तेमाल क्या हो सकता है? लोगों के समूह के सामने बोलना आपके लिए बेहतर साबित हो सकता है | बोलते समय अपना आत्मविश्वास न खोएं, Public speaking की कला में निपुणता निरंतर आभ्यास से प्राप्त की जा सकती है.

अच्छे स्रोता बनें– जिस तरह अपनी बात बोलना एक कला है उसी तरह दूसरों की बात सुनना भी एक कला है | इसलिए अच्छा वक्ता बनने के साथ – साथ अच्छे स्रोता भी बनें, किसी से बात करते समय हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि आप उसकी बात सुनने के लिए उत्साहित है.

खुद पर करें यकीन– सबसे पहले खुद पर यकीन करें कि आप extrovert बन सकते है, खुद की क्षमताओं पर अगर आप को विश्वास नहीं होगा तो आप अपनी जिंदगी को कभी भी मनचाही दिशा नहीं दें पाएंगे, खुद पर विश्वास ही आपको extrovert में बदलने का हौसला देगा.

अंत में मैं आपसे यही कहना चाहूंगी कि किसी काम की सफलता आपके मन की इच्छा पर निर्भर करती है, अगर आप अपनी इच्छा और जोश से extrovert बनने का प्रयास करेंगे तभी स्थितियां भी बेहतर होंगी और आपको कामयाबी भी मिलेगी.

Read More Best Collection:

  1. Hindi Stories
  2. Hindi Biography
  3. Whatsapp Status
  4. Personal Development Tips

babitasingh

Introduction – My name is Babita Singh. I am a teacher by profession and active member of a NGO which is working for woman empowerment. I had started a blog “khayalrakhe.com” through which i am trying to aware people specially women about health etc. and trying to guide them in simplifying their lives.

Please follow and like us:

achhisoch

यदि आपके पास हिंदी में कोई प्रेरणादायक कहानी , Article, Computer Tips, सामान्य ज्ञान, या कोई महत्वपूर्ण जानकारी है जो आप हमारे साथ Share करना चाहेते हैं तो आप हमारी ID:achhisoch.com@gmail.com पर भेज सकते हैं, पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ Share करेंगे. धन्यवाद!

24 thoughts on “Extrovert Personality है सफलता की सीढ़ी

  • October 6, 2016 at 9:09 pm
    Permalink

    Very Nice post babita Singh

    Reply
  • October 8, 2016 at 12:48 am
    Permalink

    Bahot hi achhi baatein batayi hai aapne

    Reply
  • October 13, 2016 at 3:02 pm
    Permalink

    well written !!!!!!!!!!!!!!!!!
    your article is very motivational for public…………………..

    Reply
  • October 24, 2016 at 10:08 pm
    Permalink

    Pure Hindi Use Ki Hai Madam Ne Lekin Post Me Jo Details Ke Do Personalities Ke Bare Me Samjhaya Hai Kafi Accha Laga Ummeed Karta Hu Aise hi Bahut Acche Post Dalte Rahe Take Ham Un Baton Se Self Improvement La Sake

    Thanks For Very Nice Post

    Reply
  • November 12, 2016 at 8:47 pm
    Permalink

    Aapne bahut achchi tarike se likha hai. Aur aapke samjhane ka style bhi bahut achcha hai Babita. Mai aapke dusre blog ko bhi zarur se dekhunga.

    Reply
    • November 14, 2016 at 10:44 am
      Permalink

      बहुत बहुत शुक्रिया Sahi Tarika

      Reply
  • January 18, 2017 at 1:00 am
    Permalink

    Read interesting blog on indian politics
    Bhaskar group.blogspot.com

    Reply
  • April 17, 2017 at 3:51 pm
    Permalink

    Keep writing on public speaking and personality developments @all the best@.

    Reply
  • May 26, 2017 at 4:03 pm
    Permalink

    very nice present

    Reply
    • May 31, 2017 at 3:04 pm
      Permalink

      बहुत बहुत धन्यवाद सर ज़ी

      Reply
  • May 27, 2017 at 10:10 pm
    Permalink

    Every thing you provide is valueable.

    Reply
    • May 31, 2017 at 3:03 pm
      Permalink

      बहुत बहुत धन्यवाद सर ज़ी

      Reply
  • July 3, 2017 at 12:50 pm
    Permalink

    bhout khub likha h aap na

    Reply
  • July 6, 2017 at 7:13 pm
    Permalink

    एक कहावत है बनत बनत बन जाये
    कोशिश करने से सुधार अवश्य आता है
    बढ़िया पोस्ट

    Reply
  • August 16, 2017 at 3:57 pm
    Permalink

    बहुत बढ़िया पोस्ट है, बहोत कुछ सीखने को मिला धन्यवाद।

    Reply
  • October 3, 2017 at 6:43 pm
    Permalink

    Bahot hi accha post likha hai babita ji aapne Is post me ek baat mujhe bahot hi accha lga ki aakal agar aap apne jeevan me tarakki chahte hai to is duniya ke sath kadam se kadam mila ke chalna hoga thora unke ha me ha na me na milana hi hoga.
    Thaks for sharing…!

    Reply
  • Pingback: Tracy Glastrong

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *