Jeevan ki Story in Hindi | जीवन की खोज एक कड़वा सत्य

Jeevan ki Story in Hindi: जीवन की खोज एक था दुर्ग | वह दुर्ग अति विशाल था, चोरासी लाख उसके द्वार थे और एक अतिरिक्त सभी द्वार बंद. एक निर्धन नेत्रहीन प्राणी उसमे कारवास भोग रहा था. वह खुजली के रोग से ग्रस्त, नेत्र-विहीन था, उस नेत्रहीन को बाहर जाने का मार्ग

Read more